Live Jagat

Get latest Trending News In Hindi

भारतीय प्रवासियों को बड़ा तोहफा भारत में एक और इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सौगात सभी अड़चने ख़त्म!

वर्ल्ड एयर मैप की दौड़ में शामिल हुए लुधियाना के हलवारा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने की बात को 3 दिसंबर तक पूरा एक साल हो जाएगा। इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने के मामले में इस एक साल के भीतर अभी तक एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया और स्टेट गवर्नमेंट के बीच एमओयू, नोटिफिकेशन जारी होने के अलावा जमीन एक्वायर करने के लिए एेतराज दूर करने का कार्य जमीनी लेवल पर पूरा हो चुका है।

जबकि अब इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने के लिए असली कार्य यानी टेंडर लगाना और बाद में कॉन्ट्रेक्टर को एयरपोर्ट के निर्माण का काम सौंपने का प्रोसेस जनवरी में शुरू होने जा रहा है। गलाडा के असिस्टेंट चीफ एडमिनिस्ट्रेटर भूपिंदर सिंह ने पुष्टि करते हुए बताया कि दिसंबर आखिरी तक जमीन एक्वायर का काम सम्पन्न होगा और जनवरी में एयरपोर्ट को बनाने के लिए गलाडा टेंडर लगाएगी। बता दें कि इस प्रोजेक्ट के लिए नोटिफिकेशन जारी होने के बाद अगले तीन सालों में पूरा करने की डेडलाइन तय की गई है।

Loading...

बता दें कि लुधियाना में बड़े एयरपोर्ट की दशकों पुरानी मांग पर दिसंबर 2018 में स्टेट कैबिनेट ने मंजूरी दे दी थी। इसके बाद जून 2019 में एएआई और स्टेट गवर्नमेंट के बीच इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने के लिए एमओयू साइन किया गया था, जबकि जुलाई में इसका नोटिफिकेशन भी जारी हो गया था।

इसके उपरांत सोशल इंपेक्ट सर्वे के लिए सरकार की तरफ से पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ की टीम को हायर किया गया और पीयू की टीम ने एतियाना गांव में जाकर सोशल इंपेक्ट सर्वे के तहत वहां के लोगों से उनकी जरूरत को जाना और जागरूकता पैदा की। इसके उपरांत सर्वे को पूरा कर टीम ने अपनी रिपोर्ट गलाडा को सौंप दी। जिसने आगे सरकार को रिपोर्ट पेश की। इसके बाद एक्सपर्ट टीम का गठन किया गया, जिसने गांवों में जाकर जमीन एक्वायर करने के लिए सभी एेतराज दूर किए और अब ये रिपोर्ट भी सरकार के पास भेज दी गई है।

गलाडा की तरफ से एक्सपर्ट टीम ने गांवों में जाकर लोगों के एेतराज सुने और इन एेतराज को दूर करने के लिए कई प्रकार के सुझाव भी दिए। ऐसे में एेतराज के बाद आरएंडआर रिलीफ एंड री-सेटलमेंट रिपोर्ट तैयार सरकार को भेज दी गई है।

आने वाले कुछ दिनों में इस रिपोर्ट को मंजूरी मिलने पर सेक्शन-19(ऐतराज को मंजूरी) का नोटिस जारी होगा। तदोपरांत कंपनसेशन ड्राफ्ट तैयार करने के लिए जिन किसानों की जमीनें एक्वायर की जानी हैं, उनके साथ मीटिंग करके मुआवजा सेटल किया जाएगा। मुआवजे की रकम सेटल होने पर इसका ड्राफ्ट बनाकर सरकार को भेजा जाएगा, जहां से फंड मिलने पर किसानों को बांटा जाएगा। इस कार्य को दिसंबर आखिरी तक पूरा करने का समय निर्धारित किया गया है। जबकि इसके बाद फिर गलाडा की तरफ से इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने के लिए जनवरी में टेंडर लगाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

इंडस्ट्री की जरूरत को देखते हुए लुधियाना में बड़ा एयरपोर्ट बनाने की मांग बरसों से चली आ रही थी। इसको लेकर कई बार दावे किए गए थे, लेकिन ठोस कदम नहीं उठे। साल 2005 में लाडोवाल के आसपास एयरपोर्ट बनाने की बात चली, लेकिन प्रोजेक्ट सिरे नहीं चढ़ा। इसके बाद माछीवाड़ा में एयर कार्गो बनाने का दावा हुआ, परंतु इसमें भी बात आगे नहीं बढ़ी। इसके बाद साहनेवाल से दिल्ली तक ही एक छोटी फ्लाइट शुरू हो पाई।

लेकिन अब अगले तीन सालों में हलवारा में बड़ा एयरपोर्ट बनने पर नेशनल-इंटरनेशनल फ्लाइट्स के लिए मालवा के जिलों से अमृतसर एयरपोर्ट पहुंचने में 3 घंटे, जबकि चंडीगढ़ के लिए 4 घंटे से ज्यादा के समय का सफर तय नहीं करना पड़ेगा। यहां तक कि मालवा एक छोर पर स्थित फाजिल्का से भी साढ़े तीन घंटे में हलवारा एयरपोर्ट तक पहुंचा जा सकेगा।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *