Live Jagat

Get latest Trending News In Hindi

अभी-अभी: कोरोना के कहर के बीच मोदी सरकार का ऐलान- 80 करोड़ लोगों को 2 रुपये किलो गेहूं, 3 रु. किलो चावल, साथ ही तीन महीनो के लिए…

देश में बढ़़ते कोरोना के प्रकोप के बीच बुधवार को केंद्र की मोदी सरकार ने लोगों के राशन को लेकर बड़ा ऐलान किया। पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में देश के 80 करोड़ लोगों को सस्ती दर पर अनाज देने का फैसला किया गया। कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि देश के 80 करोड़ लोगों सस्ते दर पर राशन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश के 80 करोड़ लोगों को हर महीने 7 किलो प्रति व्यक्ति राशन देगी और वो भी 3 महीने के लिए एडवांस।

प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने 80 करोड़ लोगों को 27 रुपये प्रति किलो वाला गेहूं मात्र 2 रुपये प्रति किलोग्राम में और 37 रुपये किलोग्राम वाला चावल 3 रुपये प्रति किलोग्राम में देने का फैसला किया है। इस पर 1 लाख 80 हजार करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं। यह तीन महीने के लिए राज्यों को एडवांस में दिया जाएगा।

कोरोना वायरस पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाकर रखें। किसी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें और हेल्थ मिनिस्ट्री की वेबसाइट पर सारी जानकारी लेते रहें। बता दें कि प्रकाश जावड़ेकर कैबिनेट के फैसलों की ब्रीफिंग दे रहे थे।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इस बीमारी से लड़ने का तीन चार ही तरीके हैं। पहला घर में रहें, दूसरा कुछ भी काम करने से पहले हाथ धोना और बार-बार हाथ धोना। बुखार, सर्दी और खांसी में डॉक्टर के पास जाना है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। इसे हमें अपने व्यवहार में रखना है। यह परिवार के साथ अच्छा वक्त बिताने का एक मौका भी है।

उन्होंने कहा कि दुनिया में अब तक 16 हजार से अधिक की मौतें हुई हैं। चीन में 3267 से ज्यादा और इटली में 5 हजार से ज्यादा, ब्रिटेन में दो से ज्यादा और अमेरिका में 250 से अधिक लोग मरे हैं। यह दुखद कहानी है और पूरी विश्व पर यह संकट छाया है। इसलिए पीएम मोदी ने जो कहा, वह देशहित में है सबके हित में है।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि आवश्यक सेवाओं की सभी दुकानें हर दिन खुली रहेंगी। दूध हो, पशुचारा हो, राशन हो या सभी दुकानें खुली रहेंगी। हमें पर दुकान पर जाकर भीड़ करने की जरूरत नहीं है। हमें वहां भी जाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। दो ग्राहकों के बीच कम से कम 6 फुट का अंतर हो। अगर ऐसा करते हैं तो किसी को डरने की जरूरत नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *