Live Jagat

Get latest Trending News In Hindi

तेजस्वी ने किया ऐलान RJD के कार्यकर्ताओं की नए साल की शुरुआत होगी काले कानून CAA और NRC के खिलाफ बड़ी प्रदर्शन के साथ !

बिहार में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ राजद (RJD) ने कुछ समय पहले बिहार बंद का आंदोलन किया था। उस आंदोलन में RJD के कई कार्यकर्ता बिना वस्त्र के नजर आए तो कई भैंस के साथ आंदोलन करते दिखे। वहीं अब एक बार फिर आने वाले नए साल में (RJD) सड़कों पर नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे।

<

वहीं आपको बता दें कि झारखंड में महागठबंधन की जीत के बाद बिहार में (RJD) के अलग हाव-भाव दिख रहे हैं। RJD के प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव का कहना है कि झारखंड की जनता ने तो हमें मौका दे दिया उनकी हित में बेहतरी करने का , लेकिन 2020 में बिहार में होने वाले विधान सभा चुनाव में तेजस्वी को बिहार की जनता सा बड़ी उम्मीद है।

साथ ही ये भी बता दें कि राजद की तरफ से मिल रही जानकारी के अनुसार पार्टी आने वाले साल में नागरिकता कानून(CAA) और एनआरसी (NRC) को लेकर फिर से सड़कों पर उतरेगी। इस बार यह आंदोलन जिला स्तर से लेकर प्रखंड स्तर तक का होगा। जबकि बीते 21 दिसंबर को बिहार बंद कर RJD ने काफी प्रदर्शन किया था। कई जगह RJD के प्रदर्शन ने हिंसक रुप ले लिया था।

वहीं RJD नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा जारी किए गए प्रेस रिलीज से ये पता चला है कि उन्होंने अपने प्रेस रिलीज में लिखा है कि देश की सदियों पुरानी वसुधैव कुटुंबकम् परम्परा और संविधान की आत्मा विरोधी विभाजनकारी काले क़ानून नागरिकता संशोधन अधिनियम और NRC के विरुद्ध त्वरित धरना प्रदर्शन और ऐतिहासिक बिहार बंद के बाद अब राष्ट्रीय जनता दल द्वारा 5 जनवरी को प्रखंड स्तरीय पुतला दहन और 11 जनवरी को धरना प्रदर्शन का कार्यक्रम तय किया गया है। आप सभी साथी कार्यकर्ताओं और नागरिक-सामाजिक संगठनों से अपील है कि संविधान विरोधी ताक़तों को कड़ा सबक़ सिखायें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *