Live Jagat

Get latest Trending News In Hindi

अंडर-19 के वर्ल्ड कप विजेता मनजोत कालरा को DDCA ने किया 2 साल के लिए बैन ,वहीं दो और खिलाड़ियों पर लटक रही तलवार !

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ यानी DDCA की रविवार को वार्षिक आम सभा (AGM) में कई फैसले लिए गए। जिसमें कई खिलाडियों को बैन करने का फैसला हुआ है। अभी सिर्फ एक खिलाड़ी का पर्दाफाश हुआ है कि जो अंडर-19 के वर्ल्ड कप विजेता मनजोत कालरा हैं जिन्हें दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशनको ने दो साल के लिए बैन करने का फैसला लिया है।

Loading...

बता दें कि मनजोत कालरा पर क्रिकेट एसोसिएशन ने उम्र धोखाधड़ी का दोषी पाया है। जिस कारण उन्हें एसोसिएशन ने 2 साल के लिए बैन कर दिया है। वहीं दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन से मिली जानकारी से ये पता चला है कि अभी भी 2 खिलाडियों पर तलवार लटकी हुई है। जिनमें एक केकेआर के बल्लेबाज शिवम मावी और नीतीश राणा शामिल हैं।

हालांकि, इन दो खिलाड़ियों की उम्र धोखाधड़ी का मामला डीडीसीए ने बीसीसीआइ को भेज दिया है। जबकि इसी साल जून में दिल्ली पुलिस की एक विशेष जांच यूनिट ने मनजोत कालरा के माता-पिता के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी। मनजोत कालरा के माता पिता पर ये आरोप है कि उन्होंने मनजोत कालरा को जूनियर क्रिकेट खिलाने के लिए उनकी जन्मतिथि को उल्ट-फेर कर दिया।

जबकि मनजोत कालरा की असली जन्मतिथि 15 जनवरी 1998 थी। जिसे मनजोत कालरा के माता पिता ने बदलकर 15 जनवरी 1999 कर दी है। ताकि मनजोत का चुनाव जूनियर क्रिकेट टीम में हो जाए। वहीं मनजोत कालरा के नाबालिग होने के कारण ये केस उनके माता पिता के नाम पर केस दर्ज किया गया है।

वहीं आपको ये जानकारी दे दें कि केकेआर के खिलाड़ी नीतीश राणा को अपनी जन्मतिथि से जुड़े असली पेपर जमा करने के लिए कहा गया है। अगर नीतीश राणा द्वारा दी गई जानकारी गलत पाई जाती है तो नीतीश राणा पर भी कार्रवाई हो सकती है। वहीं केकेआर के एक और खिलाड़ी शिवम मावी (साल 21) को भी उम्र धोखाधड़ी के कारण बैन किया जा सकता है।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *