Live Jagat

Get latest Trending News In Hindi

सऊदी अरब के इस कारखाने में केवल महिलाएं करती हैं काम, देखें यहां !

सऊदी अरब में महिला सशक्तिकरण  को अब तेजी से बढ़ावा दिया जा रहा है। सऊदी के अल-अहसा पूर्वी क्षेत्र में इब्न ज़ैद में स्थित एक खजूर के कारखाने में केवल महिलाएं ही काम करती हैं। इस कारखाने में लगभग 100 महिलाएं हैं, जो मैनेजमेंट, पैकेजिंग, और मार्केटिंग से लेकर सभी काम संभालती हैं। सऊदी अरब में इस तरह का यह पहला कारखाना है जहां सिर्फ महिलाएं काम कर रही हैं।

 

रिपोर्ट के मुताबिक इस कारखाने को पहले पूरी तरह से श्रमिकों के द्वारा चलाया जा रहा था, लेकिन फिर प्रवासी कामगारों की जगह स्थानीय महिलाओं को रखना शुरू किया गया। इस कारखाने में करीब 100 महिलाएं जो कारखाने का पूरा काम देखती हैं। सऊदी अरब में पहले महिलाओं को इतना छूट नहीं दिया जाता था लेकिन अब महिलाओं को कई क्षेत्रों में आगे बढ़ने का मौका दिया गया है।

सऊदी अरब में अब महिलाओं को बड़े पद दिए जाने लगे हैं। कुछ दिन पहले ही सऊदी अरब की दो बड़ी मस्जिदों में 10 सऊदी महिलाओं को बड़े पद दिए गए थे। ये बड़े बदलाव क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के विजन 2030 के तहत किये जा रहे हैं। दरअसल क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान सऊदी की तेल पर निर्भरता खत्म करना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने ”विजन 2030′ के नाम से योजना बनाई है। जिसका मकसद आर्थिक सुधारों को बढ़ावा देना है।

ये भी पढ़ें: Google के प्ले स्टोर से हटाया गया Paytm App

2018 में कानून मंत्रालय की तरफ से ऐलान किया किया गया कि तलाकशुदा महिलाओं को अपने बच्चों की कस्टडी लेने का हक मिलेगा। सऊदी अरब में महिलाओं को मैच के लिए स्टेडियम जाने देने पर भी विचार किया जा रहा है। अगस्त 2019 से छात्राओं को कैंपस में फोन ले जाने की अनुमति दे दी गई है। नए नियम के मुताबिक 21 साल से ज्यादा उम्र की महिला अकेले यात्रा कर सकती हैं। एक आंकड़े के मुताबिक 2019 की तीसरी तिमाही तक सऊदी अरब में कामकाजी महिलाओं की संख्या 1.03 मिलियन तक पहुंच गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *